बड़े दिनों बाद..

ज बड़े दिनों बाद यूँ ही खाली बैठा हूँ और वेब पर हिंदी में टाइप करना सीखा हैं/ नया नया शौक लगा हें/ लिखलिख कर ट्विटर,फेसबुक और अन्य सोशल साइट्स पर पोस्ट कर रहा हूँ/ तो सोचा ब्लॉग पर भी हिंदी में पोस्ट करूँ/ सुबह के तीन-चार घंटे गौशाला में बीत गए/ लौटकर  आया तो हिंदी टाइप सीखी और लिखने बैठ गया/ आज मोर्निंग वाक पर भी नहीं गया / अब तीन बज गए हैं और में नहाया भी नहीं हूँ/ लकिन लिखेने में मजा बड़ा आ रहा हैं/ सोचता हूँ अब शाम को ही नहाऊंगा, तब तक कुछ लिख ही लेता हूँ/ घर पर भी कोई नहीं हैं/ बच्चे हॉस्टल में हैं, भारती मार्किट गयी हे और में अकेला हूँ/ मौसम आज अचानक बदल गया हे / बादल हें और बूंदा बांदी है/ मार्च का महिना समाप्ति पर है गर्मीं भी लगभग आ ही गयी है पर ऐसे में बारिश लौट लौट कर आ रही हे / लगता हैं जैसे बारिस भी इस बार बहुत ढीट हो गयी है/ बाहर पेड़ों कें पत्ते टूट टूट कट ज़मीं पर फैले हैं/ मेरें घर कें एकदम सामने एक नीम, एक गुलमोहर, एक अमलतास, और एक जकरांदा का पेड़ हें/ सामने ही पार्क हैं, उसमें भी बहुत से पेड़ हैं / आजकल के मौसम में जरा सी भी हवा चलती हे तो पेड़ो के पत्ते सारी सड़क और पार्क में बिछ जाते हैं/ सुबह सुबह जब में पार्क में वाक करने जाता हूँ तो उन पत्तो के बीच रास्ता बना कर चलने में बड़ा मज़ा आता है/ हवा से पत्तो की सरसराहट और पैरों के नीचे आते पत्तों की आवाज बेहद अच्छी लगती हें/ दोपहर में अगर तेज हवा चले तो पत्ते उड़कर एक जगह से दूसरी जगह पहुँच जाते हें , पर अक्सर सुबह जमादार झाड़ू लगा कर सड़क साफ़ कर देता हें और पत्ते इकठा कर के आग लगा देता है/  क्या कहूँ एक तो आग लगा कर प्रदुषण करता है और एक सुंदर अहसास से मुझे वंचित कर देता हैं/ सोचता कल सुबह वोह न ही आये तो अच्छा हैं/  मुझे नहीं लगता लोग मेरी इस बात से सहमत होंगे- पर में तो में हूँ और यह मेरा बेतरतीब विचार हें/

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s